धर्म यात्रा

भक्ति कार्तिकेय स्वामी का ये मंदिर साल में खुलता है एक बार, आप भी करें दर्शन

JIGYASATV: ग्वालियर में एक ऐसा मंदिर है, जिसके पट भक्तों के लिए वर्ष में सिर्फ एक दिन खोले जाते हैं। यह मंदिर है भगवान शिव शंकर के पुत्र कार्तिकेय का जहां कार्तिक पूर्णिमा को हर वर्ष मंदिर के पट भक्तों के लिए खोले जाते हैं। भगवान कार्तिकेय के दर्शन करने के लिए दूर-दूर से श्रद्धालु यहां पहुंचते हैं।

मान्यता है कि स्वामी कार्तिकेय के दर्शनों से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। भक्तों को उनके दर्शन वर्ष में सिर्फ एक दिन यानी कार्तिक पूर्णिमा पर ही हो सकते हैं। देश का सबसे प्राचीन और संभवतः इकलौता मंदिर ग्वालियर में मौजूद है।

PunjabKesari Gwalior Kartikeya Temple

इस मंदिर के पट यानी दरवाजे वर्ष में सिर्फ एक बार वह भी मात्र चौबीस घंटे के लिए ही कार्तिक पूर्णिमा के दिन खुलते हैं।

ऐसा देश के किसी भी मंदिर में नहीं होता है इसलिए इस मंदिर में दर्शन करने के लिए आधी रात के बाद से ही भीड़ लगनी शुरू हो जाती है।

PunjabKesari Gwalior Kartikeya Temple

ग्वालियर के जीवाजी गंज इलाके में स्थित भगवान कार्तिकेय का मंदिर 400 वर्ष पुराना है और सुबह 4:00 बजे से दर्शन के लिए भक्तों की कतारें लगनी शुरु हो जाती हैं।

Related Articles

Back to top button