मां कालरात्रि की आराधना करते समय बरतें ये सावधानियां…

Spread the love

– मां काली की पूजा दो प्रकार से होती है. पहली सामान्य पूजा और दूसरी तंत्र पूजा.

– सामान्य पूजा कोई भी कर सकता है, लेकिन तंत्र पूजा बिना गुरू के संरक्षण और निर्देशों के नहीं की जा सकती.

– मां काली की उपासना का सबसे उपयुक्त समय मध्य रात्रि का होता है.

– इनकी उपासना में लाल और काली वस्तुओं का विशेष महत्व होता है.

– शत्रु और विरोधियों को शांत करने के लिए मां काली की उपासना अमोघ है.

– किसी गलत उद्देश्य से मां काली की उपासना कतई नहीं करनी चाहिए.

-मंत्र जाप से ज्यादा प्रभावी होता है मां काली का ध्यान करना.