जानें, शनि की बाधाओं को दूर करने के लिए कौन से रुद्राक्ष धारण करने चाहिए?

Spread the love

रुद्राक्ष कलाई, कंठ और ह्रदय पर धारण किया जा सकता है. इसे कंठ प्रदेश तक धारण करना सर्वोत्तम होगा.

– इसे कलाई में बारह, कंठ में छत्तीस और ह्रदय पर एक सौ आठ दानो को धारण करना चाहिए.

– एक दाना भी धारण कर सकते हैं. लेकिन यह दाना ह्रदय तक होना चाहिए तथा लाल धागे में होना चाहिए.

– सावन में सोमवार को और शिवरात्री के दिन रुद्राक्ष धारण करना सर्वोत्तम होता है.

– रुद्राक्ष धारण करने के पूर्व उसे शिव जी को समर्पित करना चाहिए तथा उसी माला या रुद्राक्ष पर मंत्र जाप करना चाहिए