भौम प्रदोष व्रत: ऐसे करें शिव जी की उपासना, दूर होंगे संकट

Spread the love

भौम का अर्थ है मंगल और प्रदोष का अर्थ है त्रयोदशी तिथि. मंगलवार यानी को त्रयोदशी तिथि होने से इसको भौम प्रदोष कहा जाता है. इस दिन शिव जी और हनुमान जी दोनों की पूजा की जाती है. इस दिन शिव जी की उपासना करने से हर दोष का नाश होता है. तथा हनुमान जी की पूजा करने से शत्रु बाधा शांत होती है और कर्ज से छुटकारा मिलता है.

इस दिन उपवास करने से गोदान का फल मिलता है और उत्तम लोक की प्राप्ति होती है. भौम प्रदोष के दिन हनुमान जी की उपासना करने से हर तरह के कर्ज से मुक्ति मिलती है. इस बार भौम प्रदोष का संयोग 04 दिसंबर को बना है.