उपासना:गणेश उत्सव 19 सितंबर तक, राशि अनुसार भगवान गणपति को चढ़ा सकते हैं अलग-अलग चीजें

Spread the love

अभी गणेश उत्सव चल रहा है, इसका समापन 19 सितंबर को होगा। गणेश उत्सव के दिनों में रोज सुबह जल्दी उठ जाना चाहिए और स्नान के बाद भगवान की विशेष पूजा करनी चाहिए। भगवान गणेश को दूर्वा चढ़ाएं और श्री गणेशाय नम: मंत्र का जाप 108 बार करें।

उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार गणेश जी को राशि अनुसार अलग-अलग चीजें चढ़ाने से कुंडली के कई दोष दूर हो सकते हैं। राशि अनुसार जानिए गणेश जी को क्या चढ़ा सकते हैं…

मेष राशि – इस राशि के लोग गणेश जी को शहद अर्पित करें।

वृषभ राशि – ये लोग गणेश जी को दूर्वा की 21 गांठ चढ़ाएं।

मिथुन राशि – इन लोगों को मिठाई का भोग लगाना चाहिए।

कर्क राशि – इस राशि के लोग मिश्री का भोग लगाएं।

सिंह राशि – सिंह राशि के लोगों को गणेश को मोदक चढ़ाना चाहिए।

कन्या राशि – ये लोग गणेश जी को गुड़ से बना भोग अर्पित करें।

तुला राशि – ये लोग खीर का भोग लगाएं।

वृश्चिक राशि – इन लोगों को गणेश पूजन में घी का दीपक खासतौर पर जलाना चाहिए और ऊँ गं गणपतयै नम: मंत्र का जाप करना चाहिए।

धनु राशि – भगवान को लाल गुलाब से बनी माला चढ़ाएं।

मकर राशि – गणेश जी को सिंदूर चढ़ाकर आरती करें।

कुंभ राशि – नारियल चढ़ाकर श्री गणेशाय नम: मंत्र का जाप करें।

मीन राशि – गणेशजी को दूर्वा चढ़ाएं और घी का दीपक जलाएं।