धार्मिक खबरें

Shankh Upay: खूब बजाएं मार्गशीर्ष माह में शंख, धन-धान्य में होगी वृद्धि

JIGYASATV: विष्णु पुराण के अनुसार समुद्र मंथन से प्राप्त 14 रत्नों में से शंख एक रत्न है। शंख को विजय, समृद्धि, सुख, यश, र्कीत व लक्ष्मी का साक्षात प्रतीक माना गया है। शंख का जल सभी को पवित्र करने वाला माना गया है, इसी कारण आरती के बाद शंख से जल छिड़का जाता है।

भगवान विष्णु अपने हाथों में चक्र, गदा व कमल के साथ-साथ शंख भी धारण करते हैं। अगहन मास में शंख पूजा से मनोवांछित फल प्राप्त होते हैं। मार्गशीर्ष माह में शंख पूजन से धन का अभाव नहीं रहता।

शंख पूजन विधि: शंख का विधिवत दशोपचार पूजन करें। रोली मिले घी से दीप करें, अगरबत्ती जलाएं, रोली चढ़ाएं, लाल फूल चढ़ाएं, कच्चे दूध का भोग लगाएं तथा इस विशेष मंत्र का 1 माला जाप करें। पूजन के बाद कच्चे दूध को जलप्रवाह करें।

मंत्र: ह्रीं श्रीं क्लीं ब्लू शंखानिधये नम:॥

Related Articles

Back to top button